Sale!

Suraj Ki Talwar

375.00450.00

जाट हृदय सम्राट भरतपुर नरेश महाराजा सूरजमल के पराक्रम के समक्ष समग्र विश्व के योद्धाओं की गौरव गाथाएं एकदम फीकी हैं। इसमें जरा बराबर भी अतिशयोक्ति नहीं है कि महाराजा सूरजमल का जिससे भी युद्ध हुआ, उसे उनकी तलवार की चमक के सम्मुख नतमस्तक होना पड़ा। सूरजमल की तलवार की चमक ने एक बार में सात-सात राजपूत योद्धाओं तक को झुकने के लिए विवश कर दिया था।
चार लाख सैनिकों वाली सेना वाला हिन्दोस्तान का बादशाह और ढाई लाख सैनिकों से सुसज्जित मराठा सेेेेेना को मात्र चार घण्टे में पराजित करने वाला अहमदशाह अब्दाली जैसा दुर्दांत लुटेरा महाराजा सूरजमल की तलवार की धार का सामना करने से डरकर गया था।

लेखक : वीरेंद्र चट्ठा

प्रकाशक : महाराजा सूरजमल टाइम्स

मूल्य : रु. 600 (Hard Cover)

रु. 550 (Paperback)

पृष्ठ : 385

SKU: sktv1 Category:

Additional information

Edition

Hard Cover, Paperback

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Suraj Ki Talwar”

Your email address will not be published.