जाट रेजिमेंट केंद्र ने मनाया 223वां स्थापना दिवस

Please Share!

20 नवम्बर 2018 को जाट रेजिमेंट केंद्र ने अपना 223वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर एक समारोह का आयोजन किया गया। इस समतोह मे रेजिमेंट परेड, मंत्रोच्चार, सैनिक सम्मेलन, वेटरन्स पुनर्मिलन और युध्द स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि के कार्यक्रम आयोजित किये गए।

jat regiment

Doon International School

सबसे पहले सैनिक तथा रिक्रूइट्स ने रेजिमेंट की पारंपरिक वेशभूषा में परेड की शुरुआत की। इस परेड में जाट रिक्रूट्स ने शानदार टर्नआउट के साथ बेहतरीन ड्रिल की। इस ड्रिल की अगुआई विकास वीर ने अपने 10 मार्चिंग दस्ते के साथ की। सैन्य बैंड की धुन पर सैनिकों द्वारा कदमताल परेड का मुख्य आकर्षण था। अति विशिष्ट सेवा मैडल, युद्ध सेवा मैडल, विशिष्ट सेवा मैडल प्राप्त जनरल अफसर कमांडिंग इन चीफ दक्षिण कंमाण्ड जाट रेजिमेंट के कर्नल ले. जनरल एस. के. सैनी ने इस भव्य परेड की सलामी ली।

पंथनिरपेक्ष और न्यायप्रिय थे महाराजा सूरजमल 

jat regiment

परेड के बाद उन्होंने सैनिकों को बधाई देते हुए कहा कि जाट सैनिक पूर्ण रूप से देश की सेवा के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने अपने संबोधन में जाट सैनिकों द्वारा प्रत्येक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए सराहना की। समारोह में उपस्थित सभी लोगो से उन्होंने कहा कि वे पुनः समर्पित होकर जाट बलवान-जय भगवान के जंगी नारे की उत्कृष्टता के लिए प्रयासरत रहें। उन्होंने उपस्थित सभी लोगो और उनके परिवारों के लिए उज्ज्वल भविष्य की कामना की। समारोह में उन्होंने प्रतिभाशाली रिक्रूइट्स एवं सैनिकों को सैन्य क्षेत्र में बेहतरीन कार्यों हेतु सम्मानित किया।

एन सी सी कैडेट और विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थी और गणमान्य इस परेड के साक्षी बने।

Related Posts